New Age Islam
Sat Jan 23 2021, 04:33 PM

Loading..

Hindi Section ( 27 Dec 2020, NewAgeIslam.Com)

Sang Parivar Is Scaring the Majority from the Minority अल्प संख्यक से बहुसंख्यक को डरा रहा है संघ परिवार


शकील शम्सी

१३ दिसंबर २०२०

विश्वका इतिहास उठा कर देखिये, किसी भी देश में बहुसंख्यक समुदाय कभी अल्पसंख्यक समुदाय भयभीत नहीं हुआ है, मगर हमारे देश में उलटी गंगा बहाने का नाटक किया जा रहा है। यहाँ एक सोची समझी साज़िश के तहत संघ परिवार के लोग बहुसंख्यक समुदाय को अल्पसंख्यकों से डराने में लगे हैं। कभी कहते हैं कि धर्म परिवर्तन कर के हिन्दुओं को अल्पसंख्या में लाने की कोशिश हो रही है।कभी कहते हैं कि हिन्दू लड़कियों को मुसलमान लड़के अपने जाल में फंसा कर उनका ज़बरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने की मुहिम चला रहे हैं। कभी आई ए एस और दूसरी बड़ी नौकरियों में घुस कर मुस्लिम नौजवानों पर जिहाद का आरोप लगता है। कभी यह झूट बोला जाता है कि ज़मीन का जिहाद चल रहा है और अगर मुसलामानों को रोका नहीं गया तो हिन्दुओं के पास भविष्य में रहने की जगह नहीं रहे गी और यह आरोप तो बहुत आम है कि मुसलमान चार चार शादियाँ करके आठ दस बच्चे पैदा कर रहे हैं और अगर उन पर रोक नैन लगाया बया तो २०५०ई० तक मुसलमानों की आबादी हिन्दुओं से अधिक हो जाएगी।मगर संघ परिवार इस बात को छिपाता है कि हिन्दुस्तानी मुसलमानों में लड़कियों का प्रतिशत क्या है? क्या मुसलमानों में लड़कियां कम नहीं हैं? बच्चे तो हर साल इतने ही होंगे जितनी औरतें होंगी, तो मुसलमान चाहे एक शादी करें या चार, आबादी कैसे बढ़ जाएगी? दूसरी बात यह है कि संघ इस बात के आंकड़े प्रदान कर दे कि कितने मुसलामानों ने एक से अधिक शादी की और कितने हिन्दुओं की एक से अधिक बीवी है? मगर जिन लोगों ने प्रोपेगेंडे को ही धर्म बना लिया होइनसे बहस कौन करे।सीधे साधे हिन्दुओं को खौफ में डालने का यह सिलसिला पहले तो केवल मुसलमानों तक ही सीमित था।इसके बाद ईसाई भी लपेटे में आ गए और अब सिखों को भी खालिस्तान के नाम पर हिन्दुओं का दुशमन करार देने की कोशिशें तेज़ हो गईं और अपने फरेब को सच साबित करने के लिए अब नए नियम बनाए जा रहे हैं। दुनिया के सामने संघ परिवार अपने धर्म की जो तस्वीर पेश कर रहा है, उस पर सारी दुनिया हंसने के अलावा कुछ नहीं कर सकती, क्योंकि दुनिया जानती है कि बहुसंख्यक समुदाय के लोग ही अल्पसंख्यकों को खौफ व दहशत में मुब्तिला कर सकते हैं। असल में संघ परिवार मज़लूम बन कर ज़ुल्म करने के बहाने ढूंढटा रहा है और अब वह यह काम अधिक बड़े पैमाने पर कर रहा है।हर भारतीय जानता है कि हिन्दुइज्म को ना तो किसी से कोई खतरा है और ना को अल्पसंख्यक वर्ग इस को ख़त्म कने का इरादा रखता है। मुसलमानों ने आठ सौ साल तक इस देश पर शासन किया, मगर हिन्दुइज्म को ना तो कोई ख़तरा महसूस हुआ और ना ही कभी हिन्दुओं का नरसंहार हुआ। जो मुसलमान लश्करी सिपहसालार यहाँ आए उनमें से अधिकतर का सामना तो यहाँ के मुसलमानों ने की किया।कोई ज़रा संघ परिवार से पूछे कि जिन मुसलमानों को इसके गुंडे बाबर की औलाद कहते हैं, उन ही मुसलमानों ने बाबर का मुकाबला किया था कि नहीं? इब्राहीम लोधी की फ़ौज में शामिल एक लाख मुसलामानों ने किया इस मुल्क के लिए अपनी कुर्बानी नहीं दी थी? संघ परिवार बताए कि तैमूर से किसने लोहा लिया था? नादिर शाह दुर्रानी के मुकाबले में कौन उतरा था? इसी तरह ईसाईयों ने यहाँ नब्बे सालों तक शासन किया मगर उन्होंने ना तो हिन्दू धर्म को खत्म करने का प्रयास किया और ना ही ज़बरदस्ती ईसाई बनाने की मुहिम चलाई तो अचानक आज़ादी के बाद उनको किया होगा, जो वह धर्म परिवर्तन करवाने वाले बन गए? संघ परिवार कभी अपने गिरेबान में झाँक कर देखे कि उसने अल्पसंख्यक वर्ग को कितना परेशान किया, कितने अत्याचार किये उसने, मगर किसी मुसलमान, ईसाई या सिख ने यह बात नहीं कही कि उनके धर्मकोखतराहै।हमारातोयहीमाननाहैकिसंघपरिवारकाकेवलऔर केवलएकउद्देश्ययहहैकिभारत को वह एक धार्मिक राज्य बनाए और इसके लिए आवश्यक है कि हिन्दुओं और सारे अल्पसंख्यक समुदायों के बीच नफरत की ऐसी गहरी खाई खोदी जाए जिसको कोई पार ना कर सके। इसी लिए भारत की इस इतिहास को बदलने की कोशिश हो रही है जिसमें गंगा जमुनी एकता के रंग भरे हैं। हिन्दुओं में झूट मूट का खौफ पैदा कर के उनको मुसलमानों, ईसाईयों और सिखों से दूर किया जा रहा है।इस साज़िश को हमें और आप को समझना होगा और नफरत की आग पर मुहब्बत का गंगा जल डालना होगा।कट्टरपंथीयों के हौसलों को पस्त करने के लिए हम सबको एकता की बात करना होगी। अगर हम संघ परिवार के जाल में फंश कर हिन्दुओं को बुरा कहने लगें गे तो संघ परिवार सफल हो जाएगा, क्योंकि उसकी इच्छा तो यही है कि दोनों वर्ग एक दुसरे से सख्त घृणा करें। आखिरमें हम फिर कहेंगे कि हमारी जिम्मेदारी है कि हम फिरका परस्ती को मिटाएं लेकिन फिरका परस्ती को मिटाने की कोशिश में अगर हम खुद ही फिरका परस्त हो गए तो हम नहीं संघ परिवार सफल होगा।

१३ दिसंबर २०२०, बशुक्रिया: इंक़लाब, नई दिल्ली

URL for Urdu article: https://www.newageislam.com/urdu-section/shakeel-shamsi/sang-parivar-is-scaring-the-majority-from-the-minority-اقلیت-سے-اکثریت-کو-ڈرا-رہا-ہے-سنگھ-پریوار/d/123793

URL: https://www.newageislam.com/hindi-section/shakeel-shamsi-tr-new-age-islam/sang-parivar-is-scaring-the-majority-from-the-minority-अल्प-संख्यक-से-बहुसंख्यक-को-डरा-रहा-है-संघ-परिवार/d/123894


New Age IslamIslam OnlineIslamic WebsiteAfrican Muslim NewsArab World NewsSouth Asia NewsIndian Muslim NewsWorld Muslim NewsWomen in IslamIslamic FeminismArab WomenWomen In ArabIslamophobia in AmericaMuslim Women in WestIslam Women and Feminism


Loading..

Loading..