New Age Islam
Sun Jun 20 2021, 08:49 AM

Hindi Section ( 23 Feb 2018, NewAgeIslam.Com)

Comment | Comment

Time to Reflect On Spirituality यह रूहानियत पर ध्यान केंद्रित करने का समय है

 

 

मौलाना वहीदुद्दीन खान

13 जनवरी, 2018

रूहानियत क्या है? रूहानियत पसंद होने का मतलब खुदा के शुऊर (चेतना) के साथ जीवन व्यतीत करना हैl

रूहानियत की ओर आकर्षित व्यक्ति स्वयं को बुलंद करते हैं, और आला इलाही शुऊर के साथ जीवन व्यतीत करना प्रारंभ कर देते हैंl क्रोध की स्थिति का उन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता, अप्रिय प्रयोगों से उनके दिमागी संतुलन में कोई खलल पैदा नहीं होता, और किसी का कष्ट देने वाला आचरण उनके अंदर क्रोध का एहसास नहीं पैदा करताl अपने सिद्धांतों पर सख्ती के साथ कारबंद रूहानियत पसंद लोगों का मानसिक स्तर इतना उच्च हो जाता है कि दूसरों कि ओर से फेंके गए पत्थर उन तक नहीं पहुँच सकतेl रूहानियत में उनहें वह जलाल हासिल होता है कि बाकी सब कुछ उनहें मामूली लगता हैl

वास्तविक रूहानियत मुराकबे और गौर और फ़िक्र से प्राप्त होता हैl मोनिक ने एक मशहूर किताब The Monk Who Sold His Ferrari, में पूर्ण रुप  से अपने भौतिक जीवन को छोड़ने की बाद प्राप्त होने वाली रूहानियत की चाभी का उल्लेख किया हैl

हमें सोचने व समझने की सलाहियत दी गई है जो कि हमारी सबसे बड़ी काबिलियत हैl इस काबिलियत का मल्का और हमारी आज़ाद सोच ही हमें एनी जीवों से अलग करता हैl वास्तविक रूहानियत वह है जो हमारे दिमाग के माद्ध्यम से प्राप्त होती हैl उसे काल्पनिक रूहानियत कहा जाता हैl

वास्तविक रूहानियत इस प्रकार के प्रश्नों पर गंभीरता के साथ विचार करने पर प्राप्त होती है, “मैं कौन हूँ?” , मेरे जीवन का उद्देश्य क्या है?” और “जब मैं मर जाऊं तो क्या होगा?” ऐसे बहुत सारे प्रश्न हैं लेकिन ऐसे सभी प्रश्नों का उत्तर खुदा के निर्माण की योजना की एक तार्किक समझ में निहित हैंl ऐसे प्रश्नों के तार्किक उत्तर की तलाश करके हम बौद्धिक स्टार पर रूहानियत प्राप्त कर सकते हैंl

जब लोग वास्तविकता खोजते हैं और बनाने वाले की योजना से जागरूकता प्राप्त कर लेते हैं तो उनका जीवन एक नए चरण में प्रविष्ठ हो जाता है जो कि अपने व्यक्तित्व का निर्माण रूहानी सिद्धांतों पर करना हैl यह वही व्यक्तित्व हैं जो आखिरत में जन्नत में आबाद होने के हकदार हैंl

स्रोत:

sundayguardianlive.com/opinion/12381-time-reflect-spirituality

URL for English article: http://www.newageislam.com/islam-and-spiritualism/maulana-wahiduddin-khan/time-to-reflect-on-spirituality/d/113935

URL for Urdu article: http://www.newageislam.com/urdu-section/maulana-wahiduddin-khan,-trnew-age-islam/time-to-reflect-on-spirituality--یہ-روحانیت-پر-توجہ-دینے-کا-وقت-ہے/d/114188

URL: http://www.newageislam.com/hindi-section/maulana-wahiduddin-khan,-tr-new-age-islam/time-to-reflect-on-spirituality--यह-रूहानियत-पर-ध्यान-केंद्रित-करने-का-समय-है/d/114390

New Age Islam, Islam Online, Islamic Website, African Muslim News, Arab World News, South Asia News, Indian Muslim News, World Muslim News, Women in Islam, Islamic Feminism, Arab Women, Women In Arab, Islamphobia in America, Muslim Women in West, Islam Women and Feminism

 

Loading..

Loading..